आपको पता है भारत में क्यों किए जाते हैं 3 ब्लेड वाले पंखों का इस्तेमाल? सभी को पता होना चाहिए

New Delhi:  आपके घर में जो पंखे लगे हैं उसमें कितने ब्ले’ड होते हैं- तीन? जी हां- तीन ही होते हैं। भारत में तीन ब्लेड वाले पंखे ही देखे जाते हैं। यहां 4 ब्लेड वाले पंखे बहुत कम देखने को मिलते हैं। क्या कभी आपने गौर किया है कि सीलिंग फैन यानी पंखों में लगे ब्लेड्स की संख्या कम या ज्यादा क्यों होती है?  शायद ये बात आपको ना पता हो लेकिन भारत में तीन ब्लेड वाले पंखे इस्तेमाल होते हैं और विदेशों में चार ब्लेड वाले पंखे इस्तेमाल किए जाते हैं। शायद आपको ये नहीं पता होगा कि ऐसा क्यों है? चलिए आज हम आपको ये दिलचस्प बात बताते हैं। 

भारत में 3 ब्लेडों वाले पंखे इस्तेमाल करने के पीछ की वजह आपको आज तक किसी ने नहीं बताई होगी। पंखों का इस्तेमाल ठंडी हवा के लिए किया जाता है। गर्मियों के मौसम में यह काफी आरामदायक होता है। आपको बता दें कि तीन ब्लेड वाले पंखे चार ब्लेड वाले पंखों की तुलना में हल्के होते हैं और काफी तेज भी चलते हैं। इसलिए भारत में अधिकतर 3 ब्लेड वाले पंखे ही इस्तेमाल होते हैं।

चार ब्लेड्स वाले पंखों की तुलना में तीन ब्लेड वाले पंखे से बिजली की बचत होती है। छोटे कमरों के लिए तीन ब्लेड वाले पंखे काफी फायदेमंद होते हैं। यह कमरे के चारों कोनों तक हवा पहुंचाते हैं। साथ ही चार ब्लेड्स वाले पंखों की अपेक्षा तीन ब्लेड वाले पंखे कम दाम में भी मिल जाते हैं। अमेरिका, रूस या ठंडे देशों में लोग अपने घरों में 4 ब्लेड वाले पंखे इस्तेमाल करते हैं। चूंकि वहां लोगों के पास एयर कंडीशनर (एसी) होता है, इसलिए वो पंखों का इस्तेमाल एसी के सप्लीमेंट के रूप में करते हैं, जिसका मकसद AC की हवा को पूरे कमरे में फैलाना होता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *