UP पुलिस कांस्टेबल भर्ती के अभ्यर्थियों के लिए खुशखबरी, कोर्ट ने बोर्ड से 1 और मौका देने को कहा

New Delhi : उत्तर प्रदेश पुलिस कांस्टेबल भर्ती को लेकर इलाहबाद हाईकोर्ट ने बड़ा आदेश सुनाया है। कोर्ट ने उत्तर प्रदेश के पुलिस भर्ती एवं चयन बोर्ड के चेयरमैन को उन उम्मीदवारों को फिर से अवसर देने का निर्देश दिया है, जो सत्यापन के लिए अपने कागजात जमा नहीं कर सके थे।

अदालत ने बोर्ड से उन उम्मीदवारों की संख्या बताने को कहा जो पुलिस कांस्टेबल भर्ती-2013 के लिए शारीरिक जांच में खरे उतरे, लेकिन सत्यापन के लिए अपने दस्तावेज जमा नहीं कर सके। कानपुर की लक्ष्मी देवी द्वारा दायर एक अवमानना याचिका पर न्यायमूर्ति सुनीत कुमार ने यह निर्देश दिया। लक्ष्मी देवी ने अपनी याचिका में कहा था कि वह फिजिकल फिटनेस टेस्ट में उत्तीर्ण रहीं, लेकिन वह सत्यापन के लिए अधिकारियों के समक्ष दस्तावेज जमा नहीं कर सकीं।

लक्ष्मी देवी के वकील ने अपनी दलील में कहा कि लक्ष्मी देवी एक गरीब महिला है जो ग्रामीण क्षेत्र में रहती है और उसके पास मोबाइल नहीं है। उसने फार्म में गांव के एक व्यक्ति का मोबाइल नंबर भरा था, लेकिन उस व्यक्ति ने परिणाम के बारे में लक्ष्मी को नहीं बताया जिसकी वजह से वह समय रहते अपने दस्तावेज सत्यापन के लिए नहीं जमा कर सकी। उन्होंने कहा कि लक्ष्मी देवी को अपने दस्तावेज जमा करने का एक अवसर दिया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *